शैतान का फसाना | Shaitan की चलाकिया | Dawat-e-Tabligh

शैतान का फसाना | Shaitan की चलाकिया | Dawat-e-Tabligh

Shaitan मेरी बात क्यों मानी? तुम खुद मुज्मि हो? पैगम्बरों की दावत छोड़कर , हुज्जत और दलील के ज़रिए। मेरे झूठे और बातिल बुलावे पर तुमने क्यों कान धरा। कोई ज़बरदस्ती हाथ पकड़ के तो मैंने तुमसे कुफ़ व शिर्क के काम कराये नहीं। शैतान का फसाना | Shaitan की चलाकिया | Dawat-e-Tabligh….

Allah को कैसे देखेंगे? |अल्लाह की रहमत | पुलसिरात का रास्ता पार करना | Dawat-e-Tabligh

Allah को कैसे देखेंगे? |अल्लाह की रहमत | पुलसिरात का रास्ता पार करना | Dawat-e-Tabligh

क्या दोपहर के वक्त सूरज के देखने में तुमको तकलीफ होती है, जबकि वह बिल्कुल साफ हो और उस पर कुछ भी बादल न हो? पुलसिरात रखी जाएगी, जो तेज़ की हुई तलवार की तरह होगी। Allah को कैसे देखेंगे?| अल्लाह की रहमत | पुलसिरात का रास्ता पार करना | Dawat-e-Tabligh…

Jannat से aacha kya होगा? | Jahannam से निकलना | jahannam ka daroga- Dawat-e-Tabligh

Jannat से अफ़ज़ल kya होगा? | Jahannam से निकलना | अनोखी हेरानी |Dawat-e-Tabligh

मेरे पास तुम्हारे लिए इससे भी अफ़ज़ल नेमत है। तुम जिसे पहचानते हो, निकाल लो! चुनांचे वे लोग दोज़ख़ से भारी तादाद में लोगों को निकालेंगे । Jannat से अफ़ज़ल kya होगा? | Jahanam से निकलन | अनोखी हेरानी |Dawat-e-Tabligh

Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh

Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh

जो दुनिया की जिंदगी में अपने ख़्याल में नेक काम करते हैं। जैसे पानी पिलाने कि लिए जगह का इंतिज़ाम करते हैं और मजबूर की मदद कर गुज़ारते हैं … Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh

सिफ़ारीश किन के लिए होगी ? | बच्चे का (इंतिकाल) मरना कैसा है ? | Dawat-e-Tabligh

Azan dene के फ़ायदे |भूत/ Jinnat को देखे तो kya kare? - Dawat-e-Tabligh

मौजूदगी में बच्चे का इंतिकाल हो जाए। बच्चे की मौत पर जो मां-बाप को ग़म होता है। अगर अधूरा बच्चा गिर गया तो वह भी मां-बाप को… । सिफ़ारीश किन के लिए होगी ? | बच्चे का (इंतिकाल) मरना कैसा है ? | Dawat-e-Tabligh

जुर्म न मानने पर गवाहियां | अच्छे बुरे कर्मो का बदला | Dawat-e-Tabligh

जुर्म न मानने पर गवाहियां | अच्छे बुरे कर्मो का बदला | Dawat-e-Tabligh

बदन के अंगों की गवाही, कुछ मेरे काम न आया मेरा माल । मुझसे जाती रही, मेरी हुकूमत ।’ इस ख़्याल से मैं डरता रहा और फ़िक्र में घुलता रहा। आज दिल खुश करने वाला नतीजा देख रहा हूं। जुर्म न मानने पर गवाहियां | अच्छे बुरे कर्मो का बदला | Dawat-e-Tabligh

Malik और गुलामों का इन्साफ | Zulm करने वाले | Dawat-e-Tabligh

मालिकों और गुलामों का इन्साफ | Zulm करने वाले | Dawat-e-Tabligh

मेरे कुछ गुलाम हैं जो मुझसे झूठ बोलते हैं और मेरी ख़ियानत करते हैं और मेरी नाफरमानी करते हैं, और मेरी तरफ से यह है कि उनको गालियां देता हूं और सज़ा में मारता भी हूं। अब मेरा और उनका क्या मामला होगा? मालिकों और गुलामों का इन्साफ | Zulm करने वाले | Dawat-e-Tabligh

क्या अच्छे काम लोगो को देखने के लिए करना ?| क्या लोगो को दीखाने के लिए पैसे kharch करना ?| Dawat-e-Tabligh

क्या अच्छे काम लोगो को देखने के लिए करना ?| क्या लोगो को दीखाने के लिए पैसे kharch करना ?| Dawat-e-Tabligh

हर भले काम में मैंने आप की खुशी के लिए अपना माल ख़र्च किया। बन्दों को अच्छे आमाल (karam) का बदला देंगे । क्या अच्छे काम लोगो को देखने के लिए करना ?| क्या लोगो को दीखाने के लिए पैसे kharch करना ?| Dawat-e-Tabligh

जलने वालों से कैसे बचे ? Dil naram karne ka wazifa अपने खिलाफ में Bolne वालों से बचने का nuskha Boss के gusse से बचने का wazifa Dusman से हिफाजत और ausko हराने का nuskha