Mard /Aurat को गंदे नज़र से देखना Web Stories | सरिर पर Tatoo बनाना कैसा है ?- Dawat-e-Tabligh

खुदा और रसूल की लानत के मुस्तहिक कौन लोग हैं? औरत mardo wale / Mard औरतो Aurato वाले कपडे कैसा है? Mard /Aurat को गंदे नज़र से देखना Web Stories | सरिर पर Tatoo बनाना कैसा है ?- Dawat-e-Tabligh….

Mard /Aurat को गंदे नज़र से देखना Web Stories | सरिर पर Tatoo बनाना कैसा है ?- Dawat-e-Tabligh
Mard /Aurat को गंदे नज़र से देखना Web Stories | सरिर पर Tatoo बनाना कैसा है ?- Dawat-e-Tabligh

खुदा और रसूल की लानत कौन logo के liye hai ?

  • खुदा और रसूल की लानत के मुस्तहिक कौन लोग हैं?

एक हदीस में रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम इर्शाद फ़रमाते हैं कि छः आदमी ऐसे हैं जिन पर मैंने लानत भेजी है और अल्लाह तआला ने भी उन पर लअनत की है और हर नबी मुस्तजाबुद्दावात होता है। वह छः आदमी ये हैं :

1. अल्लाह की किताब में ज्यादती करने वाला।

2. वह शख्स जो जब्र व कहर से इक्तिदार हासिल करके उस आदमी को इज्ज़त दे जिसको अल्लाह ने जलील किया हो और जिसको अल्लाह ने इज्ज़त अता की हो उसको जलील करे।

3. अल्लाह की तकदीर को झुठलाने वाला।

4. अल्लाह की हराम की हुई चीज़ों को हलाल समझने वाला। 

5. मेरी औलाद में वह आदमी जो मुहर्रमात को हलाल करने वाला हो ।

6. मेरी सुन्नत को छोड़ने वाला।

-मिश्कात, पेज 22

Allah और रसूल की लानत कौन logo के liye hai ? Web Stories

Mard /Aurat को गंदे नज़र से देखना

एक और हदीस में आप सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने फ़रमाया :

यानी जो कोई ना महरम पर बुरी नज़र डाले और जिसके ऊपर नज़र डाले दोनों पर अल्लाह तआला ने लअनत फ़रमाई है बशर्ते जिस पर बुरी नज़र पड़ी है उसके इरादे और इख़्तियार को इसमें दख्ल हो। हज़रत अबू हुरैरा रज़ियल्लाहु अन्हु से रिवायत है कि रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने ऐसे मर्द पर लानत की है जो औरत का लिवास पहने और ऐसी औरत पर जो मर्द का लिबास पहने।

-मिश्कात

औरत mardo wale / Mard औरतो Aurato वाले कपडे कैसा है?

हज़रत आइशा रज़ियल्लाहु अन्हा से किसी ने अर्ज़ किया एक औरत (मर्दाना) जूता पहनती है। हज़रत आइशा रज़ियल्लाहु अन्हा ने फ़रमाया कि अल्लाह के रसूल सल्ल० ने ऐसी औरत पर लअनत की है जो मर्दों के तौर तरीके इख़्तियार करे।

हज़रत इब्ने अब्बास रज़ियल्लाहु अन्हु से रिवायत है कि रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने सज्नत की उन मर्दों पर जो औरतों की तरह शक्ल व सूरत बनाकर हिजड़े बनें और लअनत की उन औरतों पर जो शक्ल व सूरत में मर्दाना पन इख्तियार करें और फ़रमाया कि इनको अपने घरों से निकाल दो।

सरिर पर Tatoo बनाना कैसा है ?

बुखारी शरीफ़ में है कि हज़रत अब्दुल्लाह बिन मसऊद रज़ियल्लाहु अन्हु ने फ़रमाया कि अल्लाह तआला की लअनत हो गोदने वालियों और गुदवाने वालियों पर और जो अबरू (यानी भवों के बाल) चुनती हैं ताकि भवें बारीक हो जायें और ख़ुदा की लअनत हो उन औरतों पर जो हुस्न के लिए दांतों के दर्मियान कुशादगी करती हैं जो अल्लाह की खिलत को बदलने वाली हैं।

 – मआरिफुल कुरआन, हिस्सा 2, पेज 455 

सतर ka ढाकना| Naya कपड़ा पहनना

  • ईमान के बाद सबसे पहला फ़र्ज़ सतरपोशी है

शरीअते- इस्लाम जो हर इंसान की हर सलाह व फ़लाह की कफ़ील है उसने सतरपोशी का एहतिमाम इतना किया कि ईमान के बाद सबसे पहला फ़र्ज़ सतरपोशी को क़रार दिया। नमाज-रोजा वगैरह सब इसके बाद हैं। हज़रत फ़ारुक़-आज़म रज़ियल्लाहु अन्हु फ़रमाते हैं कि रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने फ़रमाया कि जब कोई शख़्स नया लिबास पहने तो उसको चाहिए कि लिबास पहनने के वक्त दुआ पढ़े

यानी शुक्र उस जात का जिसने मुझे लिबास दिया जिसके ज़रिए मैं अपने सतर का पर्दा करूं और जीनत हासिल करूं और फरमाया कि जो शख़्स नया लिबास पहनने के बाद पुराने लिबास को गुरबा व मसाकीन पर सद्क़ा कर दे तो वह अपनी मौत व हयात के हर हाल में अल्लाह तआला की ज़िम्मेदारी और पनाह में आ गया।

– इब्ने कसीर अन मुस्नद अहमद, मआरिफुल कुरआन, हिस्सा 3, पेज 534

  • Badshah ka इंसाफ़ na karna | Logo ka paisa (Tax) बिना पूछे इस्तमाल करना – Dawat~e~Tabligh

    Badshah ka इंसाफ़ na karna | Logo ka paisa (Tax) बिना पूछे इस्तमाल करना – Dawat~e~Tabligh

  • Talak se Bachne ka Waqia |Pati ka patni ke liye Pyar – Dawat~e~Tabligh

    Talak se Bachne ka Waqia |Pati ka patni ke liye Pyar – Dawat~e~Tabligh

  • Dil रो रहा है पर आंखो में आसु नहीं | दिल की बीमारी को दूर करने का नुस्खा- Dawat~e~Tabligh

    Dil रो रहा है पर आंखो में आसु नहीं | दिल की बीमारी को दूर करने का नुस्खा- Dawat~e~Tabligh

Leave a Comment

Aurat aur mard ka akele hona | Shaitan की kya कोशिश है ? Dil कितने Prakar के होते हैं ?  Shaitan किस तरह लोगो को परेशान करता ha? Umar bin Khatab ki 6 नसीहतें औरतें तीन क़िस्म की होती हैं