क़ियामत की तारीख़ ky hai? Maidan-e-Hashr | सूर और सूर का फूंका जाना | Dawat-e-Tabligh

क़ियामत की तारीख़ ky hai? Maidan-e-Hashr | सूर और सूर का फूंका जाना | Dawat-e-Tabligh

Maidan-e-Hashr
पूछा कि क़ियामत कब कायम होगी, तो उनके इस सवाल के जवाब में प्यारे नबी ने इर्शाद फ़रमाया कि— क़ियामत की तारीख़ ky hai? Maidan-e-Hashr | सूर और सूर का फूंका जाना | Dawat-e-Tabligh परिचय क़ियामत की निशानियां इस नाचीज़ ने एक किताब में जमा कर दी हैं जो 'रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम की पेशीनगोइयां' के नाम से छप चुकी हैं इसलिए कियामत की निशानियों को उसी में पढ़ लें। अब उन लोगों का मुख़्तसर हाल लिखकर जिन पर कियामत कायम होगी, कियामत के हालात लिखना शुरू करता हूँ । वल्लाहु वलीयुत्तौफीक व हु व ख़ैरु औनिॐ व ख़ैरु र्रफ़ीक़ । कियामत किन लोगों पर कायम होगी ? हज़रत अब्दुल्लाह बिन मस्ज़द से रिवायत है कि हज़रत रसूले करीम ने इर्शाद फ़रमाया कि क़ियामत सबसे बुरी मख़्लूक पर कायम…
Read More