Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh

Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh

Maidan-e-Hashr
जो दुनिया की जिंदगी में अपने ख़्याल में नेक काम करते हैं। जैसे पानी पिलाने कि लिए जगह का इंतिज़ाम करते हैं और मजबूर की मदद कर गुज़ारते हैं ... Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh Kaun लोग घाटे में हैं? | किसके लिए नेक काम का फैदा नहीं ? | Dawat-e-Tabligh कौन से लोग घाटे में हैं?  काफ़िरों की नेकियाँ बेवज़न होंगी सूरः कहफ के आख़िरी रकू में इर्शाद है : 'आप फरमा दीजिए, क्या हम तुमको ऐसे लोग बताएं जो आमाल के एतबार से बड़े घाटे में हैं। (ये) वे लोग हैं जिनकी कोशिश अकरात गयी दुनिया की जिंदगी में और वे समझते रहे कि खूब बनाते हैं काम! ये वहीं हैं, जो इंकारी हुए अपने रब की…
Read More