Hazratji Maulana Yousuf मक्तूब | Dawat-e-Tabligh

Hazratji Molana Yousuf 
अगर वह भी इस दुनिया से तशरीफ़ ले जायें और पूरी उम्मत उनकी जुदाई के सदमे और रंज में मुब्तला हो और मुसीबतों में घिर जाए तो अल्लाह.... अमीर जमाअत के जानशीन और साहबज़ादे का मुश्तरका मक्तूब अस्सलामु अलैकुम व रहमतुल्लाहि व वरकातुहू ख़ुदावन्द करीम से उम्मीद है कि मिज़ाज आली बआफ़ियत होंगे। इसमें कोई शक वक शुबहा नहीं कि मरहूम हज़रत जी बहुत ही कमालात के हामिल थे। बहुत-सी बीमारियों के इलाज की सूरत थे, बहुत से कमालात के हामिल थे और उनका हमारे दर्मियान से उठ जाना ज़ाहिरी तौर पर सूरते परेशानी, लेकिन हक़ तआला सुव्हानहू और रसूले अकरम सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम के दीन की मेहनत में कुर्बानियों के साथ इन्हिमाक और बारगाहे इलाही में उम्मते मुस्लिमा के लिए अनथक दुआएं इन जाहिरी सूरतों का नेमुलबदल और…
Read More